Connect with us

tech help

▷What Is Blogging हिंदी में सम्पूर्ण जानकारी। ❰ 5 step ❱

blog likhne ke fayde- what is blogging in hindi- blogginghindi- blogging kya hai in hindi- blogging kaise kare

हेलो friends हम आपका अभिनंदन करते है। जैसा की हम जानते है। आपको ब्लॉगिंग के बारे में सम्पूर्ण जानकारी की आवश्कता है। इसलिए हम आपको वह सभी जानकारी प्रदान करने वाले है। जिसकी आवश्कता बहुत ही अधिक होती है। जब भी कोई व्यक्ति Blogging में आना चाहता है। खुद का एक ब्लॉग निर्माण करने की इच्छा रखता है। हम आपको What Is Blogging इन हिंदी लेकर Blogging से पैसे कमाने तक की सम्पूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे। जानकारी को ध्यान से पढ़े।

What Is Blogging (Blogging क्या? )

blogging का अर्थ होता है। की आप किसी जानकारी को अन्य लोगों के साथ एक ब्लॉग के माध्यम से साँझा करते है। ताकि उस जानकारी को अन्य लोग भी जान पाए समझ पाए। यह जानकारी किसी भी प्रकार की हो सकती है। जैसा की आप यह जानकारी एक blog के माध्यम से पढ़ रहे है। इसमें हम आपको blogging के बारे में जानकारी प्रदान कर रहे है।

ऐसी प्रकार अगर आपके पास कोई भी जानकारी हो तो आप भी एक ब्लॉग का निर्माण करके अन्य लोगों के साथ साँझा कर सकते है। ब्लॉगिंग को बढ़ावा देने के लिए 23 अगस्त 1999 को google ने एक फ्री publishing tools का उद्घाटन किया जिसका नाम blogger है। जो वर्तमान में भी सक्रिय है।

Types of blogging ( कितने प्रकार? )

ब्लॉगिंग कितने प्रकार ही होती है। यह सवाल अधिक बार पूछा जाता है। जब भी कोई व्यक्ति ब्लॉगिंग की यात्रा में आना चाहता है। अपना खुद का एक ब्लॉग निर्माण करना चाहता है। लेकिन शुरुआती दौर में अधिक जानकारी ना होने के कारण ऐसे बहुत सारे सवाल परेशान करते है। हम उन सभी सवालों के बारे में बात करेंगे। जो एक बिगनेर के लिए जानना आवश्क होता है। लेकिन हम पहले यही जानते है। की ब्लॉगिंग कितने प्रकार की होती है। और उनमे क्या डिफरेंस होता है।

  • Event blogging

Event blogging ब्लॉगिंग केवल कुछ ही समय के लिए की जाती है। Event blogging के लिए थोड़ी जानकारी प्रोगरामिंग भाषा में बारे में होना अति आवश्क होता है। जैसे-

1. Html (Hypertext Markup Language),

2. Js(javascript) and ,

3. Css (Custding style sheet)

क्योंकि इसके लिए एक script लिखने की आवश्कता होती है। वह script केवल प्रोगरामिंग भाषा से ही लिखी जाती है। Event blogging में लम्बे समय तक कार्य नहीं करना होता है। ना ही किसी प्रकार के लेख लिखने की आवश्कता होती है। Event blogging केवल मुख्य फेस्टिवल या त्योहारों के लिए की जाती है। जैसे – दीपावली, होली, 26 जनवरी, 15 अगस्त व अन्य। Event blogging में एक छोटी स्क्रिप्ट तयारी की जाती है। जिसमे शुभ कामना जैसा मेसज दिया जाता है। व साथ ही अन्य लोगों साँझा करने का विकल्प होता है। इस कारण यह केवल सोशल मिडिया में वायरल की जाती है।

जैसे – वाट्सअप, फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर आदि। यह स्क्रिप्ट जितना अधिक वायरल होती है। उतना ही अधिक पैसा कमाया जाता है। पैसा कमाने के लिए इसमें प्रचार पत्र ( ads ) लगाया जाता है। थोड़े ही समय में अधिक पैसा कमाने के लिए यह एक बहतरीन रास्ता साबित होता है। लेकिन इसके लिए प्रोग्रामिंग भाषा का ज्ञान होना भी आवश्क होता है।

  • Permanent blogging

Permanent blogging जैसा की हमें इसके नाम से ही मालूम हो रहा है। इस प्रकार की blogging लम्बे समय के लिए की जाती है। Permanent blogging में निरतर कार्य करना होता है। समय समय पर बदलाव किये जाते है। लेख लिखे जाते है। जानकारियाँ update की जाती है। Permanent blogging को niche blogging भी कहा जाता है। जैसा की हमने आपको शुरुआत में बताया था। की आप ब्लॉग में कोई भी जानकारी अन्य लोगोँ के साथ साँझा कर सकते है।

इसमें niche का यही मतलब होता है। की आप जिस भी टॉपिक के बारे में निरंतर जानकारी साँझा करते है। उस टॉपिक को niche कहा जाता है। यह niche कुछ भी हो सकता है। जैसे- हेल्थ, कुकिंग, ट्रेवल, खेल, चित्रकला आदि। Permanent blogging को आप बिजनेश या पेसन के रूप में भी कर सकते है। अधिकतर लोग Permanent blogging का चयन करते है। Permanent blogging करने के लिए किसी भी प्रोगरामिंग भाषा की जानकारी होना आवश्क नहीं होता है।

 what is blogging Benefits ( ब्लॉगिंग के फायदे ? )

blogging के बहुत फायदे होते है। blogging से पैसे कमाए जाते है। यह तो एक फायदा है। लेकिन इसके साथ साथ ब्लॉगिंग के अनेको फायदे होते है। जिनके कारण आपकी जिंदगी पूरी तरह से बदल जाती है। blogging को निरंतर करने के कुछ समय के बाद आपको इन फायदों का अहसास होता है। तो चलिए हम थोड़ा विस्तार से जानते है।

1. Brain development

अपने हर दिन कुछ नया सिखने को मिलता है। जिसके कारण हमारा मस्तिष्क का विकाश होता है। सोचने व समझने की शक्ति में तेजी से बढ़ोतरी होती है। शीघ्रता से निर्णय लेने वाली पावर दिमाग को मिलती है।

2. Developing creativity

नियमित दिमाग से कुछ नया सोच सोच कर लिखने से आपकी सोचने की क्षमता विकसित होती है। जिसके कारण हम नए नए आयडिया निकल पाते है। हमारी Creativity`बढ़ती है। जिसके कारण हमारे शरीर के कॉन्फिडेश लेवल बढ़ता है। जो हमारे शरीर और लाइफ दोनों के लिए लाभदायक होता है।

3. Express development

नियमित लिखने के कारण। ( post ) लेख के प्रति रूचि ( Express ) बढ़ती है। हम किसी भी जानकारी को थोड़े शब्दों में आसानी से समझा पाते है। अगर आप अच्छा लेख लिखना सीख जाते है। तो आप एक अच्छे पत्रकार बन सकते है। अथवा अन्य लोगो के लिए ( निश्चित शुल्क सहित ) लेख लिख सकते है।

4. Build network

किसी भी विषय के लोगो तक निरंतर उपयोगी जानकारियाँ भेज कर एक समूह का निर्माण किया जा सकता है। ताकि आवश्कता अनुशार समूह से जानकारी आदान प्रकार हो सके। एक एक्टिव समूह बनाना मुश्किल कार्य होता है। लेकिन ब्लॉगिंग से आसानी से बनाया जा सकता है।

5. businesses online

हम हमारे किसी भी ऑफलाइन व्यापार या कारोबार को ऑनलाइन ला सकते है। तथा अपने व्यापार कोई कई गुना अधिक बढ़ा सकते है। उद्धरण जैसे -amazon, flipkart, snapdeal आदि।

6. Independence

blogging एक ऐसा कार्य है। जिसे आप अपनी इच्छा और सोच से कर पाते है। इसमें किसी भी प्रकार से कोई भी आपको निर्णय नहीं दे सकता है। एक blogger आजाद होता है। अपनी इच्छा का मालिक होता है।

How to make money from blogging ( ब्लॉगिंग से पैसे ? )

blogging से पैसा भी कमाया जाता है। इसके एक से अधिक रास्ते है। सबसे पहला रास्ता यह है। की जब किसी blog को पढ़ने वालो की संख्या अधिक होती है। तब हम अपने ब्लॉग में प्रचार पत्र ( विज्ञापन ) जोड़ सकते है। विज्ञापन प्रदान करने वाली कम्पनी हमें पैसा देती है। विज्ञापन प्रदान करने वाली कंपनियों में सबसे पहला नाम google adsense का आता है। यह एक विश्वशनीय कम्पनी है। इसके अलावा भी अन्य कम्पनी विज्ञापन प्रदान करती है। इसके अलावा आप अपने ब्लॉग के माध्यम से अपने खुद के कोई भी product बेच सकते है।

blog likhne ke fayde- what is blogging in hindi- blogginghindi- blogging kya hai in hindi- blogging kaise kare

ब्लॉग की सहायता से यह भी एक अच्छा रास्ता साबित होता है। अन्यथा आप affiliate marketing कर सकते है। affiliate marketing में आप किसी अन्य कम्पनी के प्रोडक्ट को बिकवा कर अपना कमीशन प्राप्त कर सकते है। affiliate marketing का सुनहरा मौका कुछ कम्पनीयाँ दे रही है। जैसे-amazon, flipkart, click bank आदि। इसके अलावा आप किसी भी वस्तु का promote कर सकते है। यह भी एक good way साबित होता है। इसके अलावा भी अन्य बहुत सारे रास्ते आपको दिखाई देने लगते है। जब आप ब्लॉगिंग की दुनिया में आते है।

what is Blogging platform ?

ब्लॉगिंग स्टार्ट करने के लिए दो प्लेटफॉर्म अत्यधिक प्रचलित है। wordpress and bloggar इनमे कुछ difference है। जो आप जान लीजिये।

bloggar wordpress
इसमें आप फ्री होस्टिंग डोमेन प्राप्त करते है। इसमें आप फ्री होस्टिंग डोमेन प्राप्त नहीं करते खरीदना होगा।
इसमें आप केवल एक सिंपल ब्लॉग बना सकते है। इसमें आप जैसा चाहे ब्लॉग बना सकते है।
इसमें आपका कोई अधिक Control नहीं होता है। इसमें आपका पूरा Control होता है।
इसमें अधिक Customization नहीं कर सकते है। इसमें जैसी चाहे Customization कर सकते है।
इसमें आपको किसी भी Plugging की सुविधा नहीं होती है। इसमें आपको कोई भी Plugging की सुविधा जोड़ सकते है।
ब्लॉगर की स्पीड को बढ़ाया नहीं जा सकता। wordpress की स्पीड को बढ़ाया जा सकता है।
छोटे ब्लॉग के लिए ठीक है। लेकिन बड़ी Website के लिए सही नहीं है। छोटी या बड़ी Website के लिए बिलकुल सही है।

Blog account required ?

ब्लॉग निर्माण के लिए आपको एक डोमेन (website name) व एक होस्टिंग (server) की आवश्कता होती है। फ्री होस्टिंग व डोमेन ब्लागस्पाट से प्राप्त कर सकते है। worpress वेबसाइट निर्माण के लिए आप google cloud या अन्य कोई होस्टिंग प्राप्त कर सकते है। साथ ही आपको एक कॉस्टम डोमेन की आवश्कता होती है। इसके लिए आप google domain से अपना डोमेन खरीद सकते है। अन्यथा godaddy जैसी किसी भी वेबसाइट से डोमेन खरीद सकते है।

read more

▷html form with code in हिंदी

▷How To Create Table In Html In हिंदी

▷What Is Web Page In हिंदी

Disclaimer

आशा करते है। की आपको ब्लॉगिंग के बारे में आवश्यक और मह्त्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हो चुकी है। इस प्रकार की अन्य जानकारियाँ व सुचना प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़े रहे। वेबसाइट को बुकमार्क करे। ताकि खोजने में परेशानी ना रहे। धन्यवाद।

 

Click to comment

Leave a Reply

tranding