Connect with us

Hanumangarh news

अमरपुरा थेड़ी -माँ ने पिटवाया अपने ही बेटे को।

amarapura thedee-amarapura thedee news,amarapura news

हनुमानगढ़ टाउन के गांव अमरपुरा थेड़ी में माँ के पास गैरों के आने-जाने पर बेटे को अंतरात करना पड़ा महंगा। मां ने पिटवा बेटे को। मां के पास गैरों के आने-जाने पर बेटे को ऐतराज करना महंगा पड़ गया। इसी बात को लेकर अलग रह रही मां ने अपने ही बेटे को पिटवा डाला। इस संदर्भ में एक जने ने टाउन पुलिस थाने में अपनी मां सहित करीब आधा दर्जन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है।

रिपोर्ट में मोबाइल फोन और बाइक की चाबी भी छीनने का आरोप लगाया है। पुलिस के अनुसार मनजीत पुत्र जेठाराम राय सिख निवासी वार्ड नंबर 8 अमरपुरा थेड़ी ने रिपोर्ट दर्ज करवाई कि उसकी माता सतनाम उससे अलग निवास करती थी। उसके माता के पास 11 आदमियों का आना-जाना था। उन्होंने कई बार अपनी माता को समझाया किंतु वह नहीं मानी उल्टा उसे धमकाते थी। और कहती की उसके पास गुंडों का आना जाना है।

जब भी मौका मिलेगा तुझे सबक सिखा दूंगी। मंगलवार देर शाम करीब 7:30 बजे वह अपने परिचित सुखपाल सिंह के साथ मोटरसाइकिल पर अपने गांव हनुमानगढ़ टाउन की तरफ जा रहा था। रास्ते में गांव से निकलते ही कुछ दूरी पर खेतों में सुनसान रास्ते पर पहुंचे तो उसकी माता सतनाम कौर के अलावा कृष्ण बावरी, हनुमान बावरी, फौजी गोरिया, एवं दो अन्य व्यक्ति खड़े थे। इनके पास लाठियां और डंडे थे। इनमें से अधिकतर ने शराब पी रखी थी।

और उन लोगोँ ने उसकी मोटरसाइकिल रुकवा ली। उसकी माता सतनाम कौर ने कहा कि यह रहा दुश्मन आज इसको सबक सिखाओ। यह कहते ही वहां खड़े लोगों ने उसके साथ मारपीट शुरू कर दी। सुखपाल सिंह को धमकी देकर साइड में खड़ा कर दिया। उसकी माता सतनाम कौर के कहने पर कृष्ण बावरी ने जान से मारने की नियत से उसके सिर में गंडासी के चोट मारी। गंडासी के वार से सिर में चोट लगने से खून बहने लगा और वह वहीं गिर गया।

इसके बाद उक्त लोगों ने उसके साथ मारपीट की सुखपाल सिंह ने बीच-बचाव का प्रयास किया तो फौजी ने सुखपाल सिंह के दाएं हाथ पर लाठी के चोट मारी इसके बाद उसने जान से मरने की धमकी देकर वहां से चले गए। जाते समय उसकी माता ने उसका मोबाइल फोन और मोटरसाइकिल की चाबी छीन ली।

सुखपाल सिंह ने उसके घर सूचना दी इसके बाद सुखपाल में उसकी पत्नी के साथ मोटरसाइकिल पर ही उसे टाउन पुलिस थाने लेकर गए। वहाँ पुलिस के कहने पर अस्पताल में इलाज के लिए पहुंचे तथा इलाज करवाया। पुलिस ने रिपोर्ट के आधार पर आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 341, 323, व 341 के तहत मामला दर्ज किया है। मामले की जांच एएसआई प्रकाश को सौंपी गई है।

अधिक पढ़े।

Panchayat Samiti Hanumangarh ₹40000 की रिश्वत ।

Hanumangarh Traffic Police Station के नए भवन का किया लोकार्पण।

Click to comment

Leave a Reply

tranding